100+ Eid Mubarak Shayari Status | ईंद मुबारक शायरी

Ram Gupta

Eid Mubarak Shayari / Status 

1. हर ख्वाहिश हो मंजूर-ए-खुदा

मिले हर कदम पर रज़ा-ए-खुदा

फ़ना हो लब्ज़-ए-ग़म यही हैं दुआ

बरसती रहे सदा रहमत-ए-खुदा

ईद मुबारक !

Eid-Mubarak-Shayari

2. मैंने दिवाली मनाई उसके साथ

उसने मनाई मेरे साथ ईद

उसने सेवइयां खिलाई है मुझको

मैंने खिलाई है उसे खीर।


3. बचपन में मिलते थे पुरे रमज़ान,

अम्मी की दी सेहरी से करते थे शुरुवात,

धूम धड़का होता था दोस्तों के साथ,

आज भी हैं याद ईद की हर एक रात।

ईद मुबारक। 


4. आज खुदा की हम पर हो मेहरबानी,

करदे माफ़ हम लोगो की सारी नाफरमानी,

ईद का दिन आज आया,

चलो मिलके करें यही वादा,

कुरान की दिखाई सही राह पर हम चलेंगे सदा।

ईद मुबारक।


5. सूरज की किरणें तारों की बहार ,

 चाँद की चाँदनी अपनों का प्यार ।

हर घड़ी हो ख़ुशहाल उसी तरह मुबारक, 

हो आपको ईद का त्योंहार । ईद मुबारक।


6. आग़ाज़ ईद है, अंजाम ईद है,

सच्चाई पे चलो तो हर ग़म ईद है।

जिसने भी रखे रोज़े,

उन सब के लिए अल्लाह की तरफ से इनाम ईद है।

ईद मुबारक़!

2 Line Eid Mubarak Shayari 

7. बाकी दिनों का हिसाब रहने दो, 

ये बताओं ईद पे तो मिलने आओगे ना। ईद मुबारक।


8. ऐ रूठे हुवे दोस्त मुझे इतना बता दे,

क्या मुझ से गले मिलने का अब मन नहीं होता,

बच्चों की तरह दौड़ के आ सीने से लग जा,

ये ईद का दिन है कोई दुश्मन नहीं होता।

ईद मुबारक ।


9. अल्लाह की करते हैं तहे दिल इबादत,

दुश्मन हो या दोस्त रखे सभी को सलामत,

कुबूल फ़रमाय से शायरी का नज़राना,

ईदी चाहिये तो घर जरुर आना।

ईद मुबारक।


10. ऐ दोस्त तेरे पास होते तो गले लगाते,

दूर ही सही फिर हम वो रस्म निभायेंगे,

गले तो नहीं पर शायरी सुनायेंगे,

ईद मुबारक हो मुबारक ज़ोर- ज़ोर से चिल्लायेंगे।

ईद मुबारक।


11. रात को नया चाँद मुबारक,

चाँद को चाँदनी मुबारक,

फलक को सितारे मुबारक,

सितारों को बुलन्दी मुबारक,

और आपको हमारी तरफ से ईद मुबारक।


12. उधर से चाँद तुम देखो, इधर से चाँद हम देखे, निगाहें इस तरह टकराएं की दो दिलों की ईद हो जाएँ। ईद मुबारक।


13. आज के दिन क्या घटा छाई है,

चारों और खुशियों की क्या फिज़ा छाई हैं,

हर कोई कर रहा है सजदा खुदा को,

हर कोई कर रहा है सजदा खुदा को,

तुम भी करलो बंदगी आज ईद आई हैं।


14. मुबारक मौका हैं करो खुदा की इबादत,

खुशियों से भरी ये जिंदगी रहे सलामत,

अदा करे हर फ़र्ज़ खुदा की रहमत में,

पाक दिल युही सजदा करें रमज़ान के महे में।

ईद मुबारक।


15. अल्लाह की करते हैं तहे दिल इबादत,

दुश्मन हो या दोस्त रखे सभी को सलामत,

कुबूल फ़रमाय से शायरी का नज़राना,

ईदी चाहिये तो घर जरुर आना।


16. तमन्ना आपकी सभी पूरी हो जाएं,

 हो आपका मुक्कदर इतना रोशन कि।

 आमीन कहने से पहले ही आपकी,

 हर दुआ मंजूर हो जाए आपको दिल से ईद मुबारक!


17. ईद के दिन अल्लाह की इबादत की जाती है,

अल्लाह को खुश करने के लिए बकरे की बलि दी जाती है।


18. कायम रहे खुदा पे वो ईमान मुबारक,

ईमान मुकम्मल हो ये अरमान मुबारक,

दिल-जिस्म-रूह पाक रहे दौर-ए-ईबादत,

अल्लाह के बंदो को हो ईद मुबारक।


19. अल्लाह आपको ईद के

मुक्कदस मोके पर तमाम

खुशियाँ अता फरमाएं

और आपकी इबादत कबूल करें।


20. दुआ करो अमन ओर

शांति बनी रहे जहान में

इस बार की ईद मनाये

सिर्फ इंसानियत की ईमान में।

Eid Mubarak 😊


21. ईद लेकर आती है ढेर सारी खुशियां;

ईद मिटा देती है इंसान में दूरियां;

ईद है ख़ुदा का एक नायाब तबारक;

और हम भी कहते हैं आपको ईद मुबारक।


22. समुन्दर को उसका किनारा मुबारक

चाँद को सितारा मुबारक

फूलों को उसकी खुशबू मुबारक

दिल को उसका दिलदार मुबारक

आपको ईद का त्यौंहार मुबारक 


दो लाइनों की ईंद मुबारक शायरी 


23. ईद आई तुम न आए क्या मज़ा है ईद का 

ईद ही तो नाम है इक दूसरे की दीद का 


24. इतने मजबूर थे ईद के रोज़ तक़दीर से हम,

 रो पड़े मिलके गले आपकी तस्वीर से हम। ईद मुबारक।


25. देखा हिलाल-ए-ईद तो आया तेरा ख़याल,

वो आसमाँ का चाँद है तू मेरा चाँद है।


26. कहते हैं ईद है आज अपनी भी ईद होती,

हम को अगर मयस्सर जानाँ की दीद होती।


27. आज यारों को मुबारक हो कि सुब्ह-ए-ईद है,

राग है मय है चमन है दिलरुबा है दीद है।


28. ईंद के बाद वो मिलने के लिए आएं हैं ,

ईद का चांद नजर आने लगा ईंद के बाद। 


29. कोई कह दे उनसे जाकर की छत पर ना जाए, 

बेवजह शहर में ईद की तारीख बदल जाएगी। 

ईद मुबारक


30. तारो से आसमा में खिली रहे बहार,

चाँद के जैसा पाक हो सभी का प्यार,

होता रहे युहीं अपनों से दीदार,

मुबारक हो तुमकों ईद का त्यौहार।

ईद मुबारक।


31. ये सुबह जितनी खूबसूरत है, उतना ही खूबसूरत आपका हर एक पल हो जितनी भी खुशियाँ आपके पास आज हैं, उससे भी ज्यादा वो आपके पास कल हों । ईद मुबारक।


32. ऐ चाँद तुम उनको मेरा पैगाम कह देना,

ख़ुशी का दिन और हसी की शाम देना,

जब वो देखे तुझे बहार आकर,

जब वो देखे तुझे बहार आकर,

उनको मेरी तरफ से ईद मुबारक कह देना। 


33. तू मेरी दुआओं में शामिल है इस तरह, फूलों में होती है खुशबु जिस तरह। अल्लाह तुम्हारी जिंदगी में इतनी खुशियाँ दे, ज़मीन पर होती है बारिश जिस तरह । ईद मुबारक।


34. मुबारक नाम है तेरा,

मुबारक ईद हो तुझको,

जिसे तू देखना चाहे,

उसी की दीद हो तुझको ईद मुबारक।

ईद मुबारक।


35. आज से अमीरी गरीबी के फासले ना रहे,

हर इंसान एक दूजे को अपना भाई कहे,

आज सब कुछ भूल कर आ गले लग जा,

मुबारक हो तुझे ये ईद उल अजहा।

ईद मुबारक। 🙏


36. ईद का दिन है गले आज तो मिल ले ज़ालिम

रस्म-ए-दुनिया भी है मौक़ा भी है दस्तूर भी है।


37. चुपके से चाँद की रौशनी छू जाये आपको,

धीरे से ये हवा कुछ कह जाये आपको।

दिल से जो चाहते हो मांग लो खुदा से,

हम दुआ करते हैं मिल जाये वोह आपको।।

Eid Mubarak 😊


ईंद मुबारक शायरी , स्टेटस कलेक्शन 


38. ज़माने भर की ईदों से मुझे क्या मतलब, 

मेरा चाँद मिल जाये, मेरी ईद हो जाये। 

ईद मुबारक।


39. सदा हँसते रहो जैसे हँसते हैं फूल,

दुनिया के सारे गम तुम जाओ भूल,

चारों तरफ फ़ैलाओ खुशियों के गीत,

इसी उम्मीद के साथ तुम्हें मुबारक हो ईद।

ईद मुबारक


40. हवा की खुशबू मुबारक

फिज़ा को मौसम मुबारक

दिलों को प्यार मुबारक

आपको हमारी तरफ से ईद मुबारक 


41. रात को नया चाँद मुबारक,

चाँद को चाँदनी मुबारक,

फलक को सितारे मुबारक,

सितारों को बुलन्दी मुबारक,

और आपको हमारी तरफ से ईद मुबारक।

ईद मुबारक।


42. मौका हैं खास,

कहदे दिल के ज़स्बात,

गीले शिकवे भुलाकर,

सभी को ईद मुबारक। 


43. हर ख्वाइश हो मंज़ूर-ए-खुदा,

मिले हर कदम पर रज़ा-ए-खुद,

फ़ना हो लब्ज़-ए-गम यही हैं दुआ,

बरसती रहे सदा रहमत-ए-खुदा।

ईद मुबारक। 🙏


44. ईद लेकर आती है ढेर सारी खुशियां;

ईद मिटा देती है इंसान में दूरियां;

ईद है ख़ुदा का एक नायाब तबारक;

और हम भी कहते हैं आपको ईद मुबारक। 


45. आज खुदा की हम पर हो मेहरबानी;

करदे माफ़ हम लोगो की सारी नाफ़रमानी;

ईद का दिन आज आओ मिलकर करें यही वादा;

खुदा की ही राहों में हम चलेंगे सदा यही है हमारा वादा.

ईद मुबारक!


46. आग़ाज़ ईद है, अंजाम ईद है,

सच्चाई पे चलो तो हर ग़म ईद है।

जिसने भी रखे रोज़े,

उन सब के लिए अल्लाह की तरफ से इनाम ईद है।

ईद मुबारक़!


47. सदा हँसते रहो जैसे हँसते हैं फूल,

दुनिया के सारे गम तुम जाओ भूल!

चारों तरफ फ़ैलाओ खुशियों के गीत,

इसी उम्मीद के साथ तुम्हें मुबारक हो ईद!

ईद मुबारक!


48. ना हाथ दिया, न गले मिले, ना कुछ बात हुई, 

अब तुम ही बताओ ऐ साजन ये क़यामत हुई के ईद हुई।

 ईद मुबारक।


49. खुशियों के इस मौसम का लुत्फ लें

जरूरतमंदों को भी मुस्कुराने की एक वजह दें।

- ईद मुबारक!


50. ये दुआ मांगते है हम ईद के दिन

बाकी न रहे आपका कोई ग़म ईद के दिन

आपके आँगन में उतरे हर रोज़ खुशियों भरा चाँद

और महकता रहे फूलों का चमन ईद के दिन

आप सभी को ईद मुबारक


51. दिए जलते और जगमगाते रहें

हम आपको इसी तरह याद आते रहें

जब तक ज़िंदगी है ये दुआ है हमारी

आप ईद के चाँद की तरह जगमगाते रहें

आप को ईद मुबारक हो। 


52. ईद का त्यौहार आया है

खुशियां अपने संग लाया है

खुदा ने दुनिया को महकाया है

देखो फिर से ईद का त्यौहार आया है

आप सभी को दिल से ईद मुबारक


53. चाँद से रोशन हो रमजान तुम्हारा

इबादत से भरा हो रोज़ा तुम्हारा

हर रोज़ा और नमाज़ कबूल हो तुम्हारी

यही अल्लाह से है, दुआ हमारी


54. नज़र का चैन दिल का सरूर होते हैं

कुछ ऐसे लोग जहाँ में जरूर होते हैं

सदा चमकता रहे ये ईद का त्यौहार 

करीब रह के भी हम से जो दूर होते हैं