Direct Selling कम्पनी क्या होती है

Direct Selling का नाम सुनकर ही थोड़ा बहुत समझ में आ जाता है कि डायरेक्ट सेलिंग क्या है। डायरेक्ट का मतलब सीधा और सेलिंग का मतलब बेचना। सीधे शब्दों में कहें तो डायरेक्ट सेलिंग का मतलब सीधे बेचना। ये डायरेक्ट सेलिंग डायरेक्ट सेलिंग कंपनियां अपने प्रॉडक्ट्स और सर्विसेज दुकानों के जरिए सेल करने के बजाय कंज्यूमर्स को सीधे बेचती हैं। ये इंडिपेंडेंट सेल्स रिप्रेजेंटेटिव्स के जरिए पर्सन-टू-पर्सन बेसिस पर सेलिंग करती हैं। एमवे, ओरिफ्लेम, एवॉन और मोदीकेयर इंडिया की जानी-मानी डायरेक्ट सेलिंग कंपनियां हैं।
What-is-direct-Selling

Direct Selling से आप घर बैठे कमाई कर सकते हैं।

Direct Selling में आज के समय में कमाई के ढेरों मौके हैं। कोई चाहे तो अपनी पुरानी जॉब छोड़े बिना भी इस से जुड़ सकता है और अच्छी खासी कमाई कर सकता है। बस कुछ टाइम देकर आप कंपनी के प्रोडक्ट बिकवा कर अच्छा मुनाफा कमा सकते हैं। इसके लिए आप को किसी ऑफिस की जरूरत नहीं होती। आप घर बैठे ही यह काम आसानी से कर सकते हैं। 

Direct Selling कम्पनी कैसे काम करती है।

अभी हम जब किसी दुकान से कोई समान खरीदते तो वह प्रोडक्ट्स कई जगहों से और कई लोगों के हाथों से गुजर कर हमारे पास पहुंचता है। जब वह प्रोडक्ट हमारे पास पहुंचता है उससे पहले वह मैन्युफैक्चरर , डिस्ट्रीब्यूटर , होलसेलर्स , रिटेलर से होकर हमारे पास आता है। जब कि डायरेक्ट सेलिंग मे ऐसा नहीं होता है। डायरेक्ट सेलिंग कंपनी इंडिपेंडेंट सेल्स रिप्रेजेंटेटिव्स का नेटवर्क बनाती है, जो अपने पर्सनल नेटवर्क या कॉन्टैक्ट यूज करके प्रॉडक्ट्स बेचते हैं। ये कंपनी के एंप्लॉयी नहीं होते।

ये लोग सेल्फ एंप्लॉयड माने जाते हैं और उन्हें कमिशन मिलता है। आजकल डायरेक्ट सेलर्स इंटरनेट और सोशल नेटवर्किंग साइट्स का इस्तेमाल भी करते हैं। अपने प्रोडक्ट को बेचने के लिए। डायरेक्ट सेलिंग कंपनी विज्ञापन नहीं करती है और छोटी प्रोडक्ट चैन होने के कारण प्रोडक्ट्स की बिक्री होने पर पैसा कम लोगों में जाता है। तो इस तरह से डायरेक्ट सेलिंग किफायती भी साबित होती है। इसलिए आज के समय में ऐसी बहुत सी कम्पनियां बाजार में आ रही है जो डायरेक्ट सेलिंग करती है। 

Direct Selling कितने प्रकार की होती है

अब बात करते हैं डायरेक्ट सेलिंग कितने प्रकार की होती है। डायरेक्ट सेलिंग को तीन भागों में बांटा गया है। 

1.Single Level :- 
सबसे पहले डायरेक्ट सेलिंग सिंगल लेवल आता है। जिसमें कोई आदमी किसी कम्पनी में बतौर डायरेक्टर सेलर खुद जाकर जुड़ता है वह देखती कंपनी के अलग-अलग डिस्ट्रीब्यूटर से समान लेता है और उनकी बिक्री आगे करता है इसमें डायरेक्ट सेलर को प्रोडक्ट एमआरपी अनुसार कुछ प्रतिशत मुनाफा पर मिलता है भारत में हिंदुस्तान यूनिलीवर के लिए बहुत से लोग बतौर डायरेक्ट सेलर का काम करते हैं।

2. Party Plan :-
पार्टी प्लान डायरेक्ट सेलिंग में घर या ऑफिस से लोगों के समूह द्वारा पार्टी रखी जाती है। और उसके अंदर कंपनी के प्लान प्रोडक्ट के बारे में बताया जाता है। Direll Innovations Pvt Ltd कंपनी भी पार्टी प्लान का ही  इस्तेमाल मुख्य रूप से करती है जिसमें महिलाओं के बीच किट्टी पार्टी में कंपनी के प्रोडक्ट का प्रमोशन किया जाता है। कम्पनी का हिस्सा बन कर अच्छा पैसा कमा सकते हैं।

3.MLM :-
Multi Level Marketing , Network Marketing , Refferal Marketing यह सब एक ही है बस लोग अलग नाम से जानते हैं डायरेक्ट सेलिंग में सबसे ज्यादा प्रसिद्ध मल्टी लेवल मार्केटिंग ही है जिसमें लोग कंपनी के प्रोडक्ट को भेजते हैं साथ में नए लोगों को भी कंपनी से जोड़ते हैं जिससे उनके द्वारा किए जाने वाले प्रोडक्ट बिक्री पर जुड़ने वाले व्यक्ति को कुछ प्रतिशत मुनाफा मिलता है। इसमें लोगों को जोड़ने के अनुसार लेवल मिलता है। 

चलिए मैं आप को एक विश्वशनीय और टाॅप लेवल की डायरेक्ट सेलिंग कंपनी के बारे में बताता हूं जहां से आप अपने प्रोडक्ट्स खरीद सकते हैं। और कम्पनी के प्रोडक्ट्स को Sell करवा कर अच्छा पैसा कमा सकते हैं। 

Direct Selling के फायदे 

डायरेक्ट सेलिंग का सबसे बड़ा फायदा यह है कि डायरेक्ट सेलिंग हर कोई कर सकता है इसमें कोई भी उम्र , डिग्री जाति , लिंग का व्यक्ति जुड़ सकता है। इसमें कोई किसी भी तरह के क्वालिफिकेशन की आवश्यकता नहीं होती है। डायरेक्ट सेलिंग किसी भी समय कभी भी और कहीं से भी किया जा सकता है। बस आपके पास अपना उपभोक्ता होना चाहिए। डायरेक्ट सेलिंग से कंपनी के प्रोडक्ट कम कीमत में मिल जाते हैं अगर कोई किसी कंपनी से बतौर डायरेक्ट सेलर जुड़ता है।

तो उसे कंपनी के प्रोडक्ट एमआरपी से कम दाम पर मिल जाते हैं जिसे वह स्वयं इस्तेमाल कर सकता है और सेल भी सकता है। डायरेक्ट सेलिंग में बहुत सी कंपनियां जुड़ने वाले लोगों को खुद डायरेक्ट सेलिंग सिखाती है जिससे बहुत कुछ नया सीखने और करने का मौका मिलता है। तो आप भी डारेक्टर सेलिंग कंपनी से जुड़ कर अपनी जिंदगी बदल सकते हैं।

Direct Selling से जुड़े कुछ सवाल जवाब

Q:- Direct Selling का मतलब क्या है?
A:- डायरेक्ट सेलिंग ने मेडिएटर की भूमिका को पूरी तरह से खत्म कर दिया है। आप कंजूमर से डायरेक्ट बात कर सकते हैं। और उनकी जरूरतों को समझकर उनकी समस्या का हल कर सकते हैं। 

Q:- क्या डायरेक्ट सेलिंग इंडस्ट्री में किसी खास डिग्री की आवश्यकता होती है?
A:- डायरेक्ट सेलिंग इंडस्ट्री की सबसे बड़ी खासियत यही है कि इसमें काम करने के लिए किसी बड़ी डिग्री की आवश्यकता नहीं होती है। काम करने के लिए मेहनत और इच्छा का होना बहुत जरूरी है। क्योंकि डायरेक्ट सेलिंग कंपनी में काम करते करते आपके अंदर बहुत सारी खूबियां पनपने लगती हैं।

Q:- शुरुआत में कितना इन्वेस्ट करना पड़ता है?
A:- आपको एक न्यूनतम पूंजी निवेश के साथ अपना खुद का व्यवसाय शुरू करने के लिए अवसर प्रदान करता है। या एक बेहतर भविष्य की ओर स्वयं प्रयास और समर्पण के माध्यम से लक्ष्य निर्धारित करने के लिए सक्षम बनाता है। इसमें आपको अपनी जॉब को छोड़ने की जरूरत भी नहीं होती है। मतलब आप इसे दूसरे कामों के साथ भी कर सकते हैं।

Q:- कितना वक्त काम के लिए देना पड़ता है?
A:- डायरेक्ट सेलिंग में आप हर समय काम के प्रति एक्टिव रह सकते हैं। इसमें समय का कोई प्रतिबंध नहीं है। अगर आप कहीं घर से बाहर हैं तो आप वहां से भी अपना काम कर सकते हैं।

Q:- यहां काम किन लोगों के लिए अधिक लाभदायक रहता है?
A:- यह काम सबसे ज्यादा उन लोगों के लिए लाभदायक रहता है जो लोग घर से काम करना चाहते हैं। जो किसी वजह या किसी मजबूरी से घर से बाहर नहीं निकल सकती हैं। इसमें घर पर रहने वाली महिलाएं बड़ी संख्या में सामने आ रही हैं। रिटायर्ड व्यक्ति के लिए भी या अवसर बहुत ही अच्छा है। इनके लिए डायरेक्ट सेलिंग एक बहुत अच्छा साधन हो सकता है कमाई करने का। अगर कोई व्यक्ति बातचीत में कुशल है चाहे वह किसी भी प्रकार की जॉब करता हो या घर पर ही रह कर काम करना चाहता है उनके लिए पैसा कमाने का यह बहुत ही अच्छा माध्यम साबित हो सकता है।
यह भी पढ़ें :-
जीवन में अमीर बनने का सफर सूत्र जरूर पढ़ें।

डिजिटल लाॅकर में अपने डाक्यूमेंट्र सुरक्षित कैसे रखें।

Mutual Fund में इन्वेस्ट करके पैसा कैसे कमाएं।

बिजनेस में सक्सेस होने का अचूक फॉर्मूला जरूर पढ़ें।

Post a Comment

1. कमेंट बॉक्स में किसी भी प्रकार की लिंक ना पेस्ट करें।
2. कमेंट में गलत शब्दों का प्रयोग ना करें।

Previous Post Next Post