Poka Yoke Concept की शुरुआत कैसे हुई।

Poka Yoke-in-Hindi
Poka Yoke एक जापानी शब्द है। Poka का मतलब Mistake और Yoke का मतलब Proofing होता है। इसे error - Proofing और Fail Sefig भी कहते हैं। अब बात करते हैं कि इस Concept को शुरू किसी ने किया था। इस Concept को Shingeo Shingo ने शुरू किया था। Poka Yoke एक ऐसा Method है।

Poka Yoke को शुरू करने का उद्देश्य क्या था।

Poka Yoke का उद्देश्य यह है कि गलती से भी कोई गलती ना हो। अगर फिर भी कोइ गलती हो जाती हैं किसी Process में  कोई गलती हो जाती है जिससे Production खराब हो जाता है। तो Poka Yoke Method का काम होता है कि उस खराब  Production को Customer तक पहुंचने से पहले ही Poka Yoke के अन्तर्गत पकड़ लेना। जिससे खराब प्रोडक्ट ग्राहकों तक ना पहुंच पाए। क्योंकि अगर खराब प्रोडक्ट ग्राहकों तक पहुंच जाता है तो इससे कम्पनी को दिक्कत हो सकती है। Poka Yoke के कई उदाहरण हो सकतें हैं। जिनके बारे मेंं मैं आपको आगे बताऊंगा। जिससे आप समझ सके असल में  Poka Yoke कैसे काम करता है।

यह भी पढ़ें :- 
Quality क्या है। Quality का मतलब क्या होता है।


Manufacturinईg Industries को Poka Yoke की जरूरत क्यो होती है।

Poka Yoke में Prevention , Detection Awareness के द्वारा Manufacturing Process में डिफेक्ट को दूर करते हैं। Poka Yoke की जरूरत कम्पनी को क्यो होती है। किसी भी Manufacturing Process में Defect या Error का होना आम बात है। ये errors या Defect दो प्रकार के होते हैं। पहला है Human error / Mistakes दूसरा है Maching error / Defect. Poka Yoke Process के जरिए हम उस Defect को Remove करते हैं या तो Minimise करते हैं।

Prevention और Detection Poka Yoke क्या होता है।

Poka Yoke दो प्रकार के होते हैं। पहला है Prevention Poka Yoke और दूसरा है Detection Poka Yoke. Manufacturing Company  में ये दोनों Poka Yoke Method का उपयोग किया जाता है।
Prevention Poka Yoke :- Prevention Poka Yoke किसी भी Process में Mistakes की संभावनाओं को कम कर देता है।
Detection Poka Yoke :- Detection Poka Yoke वो Device होते हैं जिनका इस्तेमाल हम Process में हो चूके गलतियों को Detect करने में करते हैं। आसन भाषा में कहें तो Detection Poka Yoke का इस्तेमाल हम हो चूकी गलतियों को हमारे   Customer  के पास जाने से पहले कम्पनी में ठीक करने के लिए करते हैं। Detection Poka Yoke को  Secondary  Poka Yoke कहते हैं। Manufacturing industries में Prevention Poka Yoke को Detection Poka Yoke की तुलना मे बेहतर माना जाता है।

Poka Yoke का सबसे सटीक उदाहरण

हम जब किसी माॅल वैगरह में जातें हैं वह वाशरूम में जो टोटी लगी होती है जब हम उसके नीचे हाथ करते हैं तो पानी आने लगता है पर जब हम हाथ हटा लेते हैं तो पानी आना बंद हो जाता है। क्योंकि उसके नीचे एक सेंसर लगा होता है। ऐसा करने की जरूरत इसलिए पड़ी क्योंकि कई लोग नल को खुला ही छोड़ आते थे। पर सेंसर सिस्टम लग जाने से लोग अब चाह कर भी गलती नहीं कर सकते हैं। Poka Yoke भी बिल्कुल ऐसे ही  Concept है। अगर हमसे Manufacturing Process में बार कोई ग़लती हो रही है तो इस Process पर Poka Yoke Concept को लागूं करके कुछ ऐसे बदलाव किए जाएं या कोई  Device लगाईं जाएं जिससे  Human Mistakes के होने के चांस बिल्कुल खत्म हो जाए।  Poka Yoke Concept को शुरू करने के पीछे मकसद भी यही था। कि जितना ज्यादा से ज्यादा हो सके मानवीय गलती को कम या खत्म किया जाए।

यह भी पढ़ें :- 
Quality Assurance और Quality Control में क्या अन्तर होता है।

किसी भी Machine पर सुरक्षित काम करने का सही तरीका क्या है

मैकेनिकल इंजीनियरिंग Measuring Instruments और Gauges

Casting और Forging में क्या अन्तर होता है।

Post a Comment

1. कमेंट बॉक्स में किसी भी प्रकार की लिंक ना पेस्ट करें।
2. कमेंट में गलत शब्दों का प्रयोग ना करें।

Previous Post Next Post