Casting क्यां होता है। 

What-is-Casting
Casting Material की ढलाई का काम एक सांचे के निर्माण से शुरू होता है। जो उस हिस्से का आकार होता है जिसे हम बनाना होता है। Metal Casting किसी भी आकार का Components तैयार करने की सबसे पुरानी प्रक्रिया है। अभी भी ज्यादातर कंपनियां में यही Process का इस्तेमाल किया जाता है। Casting का मतलब होता है कि Metal को भट्टी (Oven) गर्म किया जाता है।  इसे तब तक गर्म किया जाता है जब तक यह पिघल नहीं जाता है। फिर यह पिघला हुआ Metal सांचे में डाला जाता है। जिसमें पहले से ही आकृति बनी हुई होती है। फिर इसे ठंडा होने दिया। ठंडा होने पर यह जम जाता है। फिर यह तरल उस आकृति का आकार ले लेता है। आमतौर ठोस धातु का हिस्सा मोल्ड से हटा दिया जाता है। जमने के बाद फालतू धातु को मोल्डझ से या तोड़कर कर हटा दिया जाता है। बचें हुए ठोस वस्तु को Casting कहा जाता है। इस प्रक्रिया को Foundry  भी कहा जाता है।

Casting मे कौन कौन से Metal मिलाएं जातें हैं। 

Alloy ( मिश्र धातु ) :- 
यह दो या दो से अधिक धातुओं से मिलकर एक गैर- धातु को संचित कर के इसके गुणों को अंतिम उपयोग के लिए बेहतर बनाने के लिए निर्मित एक ठोस धातु है। 

Ferrous Alloy ( लौह मिश्र ):-
लोह और इसके घटकों वाले मिश्र धाऊ को फेरस मिश्र के रुप में जाना जाता है।
यह भी पढ़ें :- 
Poka Yoke क्या है और यह कैसे काम करता है।

5 S क्या है और यह कैसे काम करता है।

मशीन पर काम करने का सही तरीका क्या है।
Non - Ferrous Alloy ( गैर लौह मिश्र ) :- 
लोहे की यह आधार धातु नहीं है। जिसे  non Ferrous Alloy के नाम से जाना जाता है। 

Ductile ( नरम लौहा ):-
कच्चा लोहा एक पिघले हुए तत्व की तरह व्यवहार करता है। जैसे सीरियम और हिलियम जैसे कि गोलाकार या नोड्यूल जैसे मुक्त ग्रेफाइट के निर्माण के लिए। ये Cast Metal को Ductility का आंकलन योग्य डिग्री बताता है। Ductile Iron को Project Engineering द्वारा उपयोग किया जाता है। जिसमें Fatigue Resistance , Strength , toughness के साथ साथ एक Balance लचीलापन आवश्यकताओं का एक संयोजन होता है। 

Aluminum Casting ( एल्युमीनियम कास्टिंग ):-
Aluminum एक Silver White Ductile Metallic त्वत है। Aluminum सबसे अच्छा abundant metal है और यह कास्टिंग प्लस Foundry  पैटर्न  के लिए बड़े पैमाने पर उपयोग किया जाता है। Aluminum का उपयोग  स्टील और लोहे के निर्माण में Deoxidizers के रुप में भी किया जाता है। 

Steel Casting ( स्टील कास्टिंग ) :- 
Steel Casting एक विशिष्ट प्रकार की Casting है। इसमें कई प्रकार के मिश्र धातु Steel's और कार्बन  Steel's शामिल होते हैं।

Steel Alloys ( स्टील मिश्र )
स्टील जो इस्पात के यांत्रिक गुणों को बढ़ाने के लिए वजन से 1.0 % - 50 % तक धातुओं को मिलाया जाता है।

मिश्र धातु ( Alloys Steel) स्टील को  दो भागों में बांटा गया है। 

1. निम्न मिश्र धातु स्टील
2. उच्च मिश्र धातु स्टीलस

Carbon Steel Casting :- 
निम्न Casting Carbon Steel ज्यदातर मिश्र धातु  घटक सिंध्दात के रूप में कार्बन को कवर करता है। अन्य तत्व कम मात्रा में मौजूद होते हैं। ‌जिसमे डी- आॅक्सीकरण के लिए अतिरिक्त शामिल हैं। वे गुणों के एक महान विविधता के आकार के होते हैं। क्योंकि व्यवस्था और heat Treat को गुणों के विशिष्ठ मिश्रण को प्राप्त करने के लिए चुना जा सकता है जिसमें Hardness , Ductility, Fatigue Resistance, toughness और Strength

Stainless steel Casting(स्टेनलेस स्टील कास्टिंग) 
मुख्य रूप से कास्टिंग Stainless steel से
किया जाता है। Stainless steel एक मिश्र धातु है। जिसमें द्रव्यमान द्वारा न्यूनतम 10.5 - 11 % क्रोमियम सामग्री होती है। Stainless steel अन्य साधारण स्टील की तरह आसानी से जंग , दाग या जंग नहीं लगता है। पर्यावरण की स्थिति के अनुसार Surface Finish और सामग्री के ग्रेड विविध है।
यह भी पढ़ें :- 
Lathe Machine क्या है और यह कैसे काम करता है

Casting और Forging में क्यां अंतर होता है।

Quality Management क्या होता है।

Post a Comment

1. कमेंट बॉक्स में किसी भी प्रकार की लिंक ना पेस्ट करें।
2. कमेंट में गलत शब्दों का प्रयोग ना करें।

Previous Post Next Post