Forging और Casting दो अलग-अलग Manufacturing तकनीक है। इनका उपयोग करके   Metal को  Material में अपने हिसाब से आकार और साईज में ढाला जाता है।
Casting-and-Forging

Forging क्या है।

Forging thermal और Machanical उर्जा का अनुप्रयोग है जो दबाव के साथ या बिना दबाव के Metal को हमारे अनुसार आकार में बदलता है। इसका उपयोग material मे Geometric बदलाव लाने के लिए किया जाता है। Forging की यह प्रक्रिया मुख्य रूप से लोहे और इस्पात बनाने वाली कम्पनी में किया जाता है। Forging अन्य तकनीकों की तुलना सबसे मजबूत  Material  बनाने के लिए जानीं जाती है। Forging आमतौर पर Casting से अधिक मजबूत होती है। लेकिन Forging को बनाने की क्षमताओं कई बातें देखनी पड़ती है।

Forging प्रक्रिया के प्रकार

Casting वह प्रक्रिया है जिसमें धातु (Metal) को पिघलने तक गर्म किया जाता है। Metal को गर्म रहते या तरल अवस्था में रहते इस जिस आकार में ढालना होता उस आकृति के सांचे या बर्तन में  डाला जाता है। इस प्रक्रिया में हम धातुओं को अपने मनमर्जी से किसी भी आकार मे बदल सकते हैं। यह जटिल संरचना बनाने के उपयोगी है। ऐसे संभावित मामलों का उपयोग किया जाता है। जो कि Forging करने। में आसान नहीं होते हैं।

Casting प्रक्रिया के प्रकार

1. Gravity Casting ( Including sand Casting and die casting )

2.Pressure Casting  (Including Low Pressure casting and High Pressure casting) 

Casting और Forging के बीच की तुलना।

Forging प्रक्रिया से तुलना करने पर  Casting प्रकिया में Tensile और Fatigue strength कम होती है।

Forging प्रक्रिया में metal संबंधित दोषों से बचा जा सकता है। लेकिन Casting प्रकिया में Metal संबंधी दोष उत्पन्न होते हैं।

Forging की तुलना में  Casting में Tooling का खर्चा कम आता है। 

Post a Comment

1. कमेंट बॉक्स में किसी भी प्रकार की लिंक ना पेस्ट करें।
2. कमेंट में गलत शब्दों का प्रयोग ना करें।

Previous Post Next Post