Vernier Caliper क्या है।

Vernier Caliper किसी भी चीज को मापने का एक यंत्र है। ज्यादातर इसका उपयोग Metal Work , Factory  या किसी कम्पनी में होता है। इससे ज्यादातर मेटल की बनी वस्तुओं को नापा जाता है। Vernier Caliper का ज्यादा इस्तेमाल Engineering works में होता है। Auto Parts Production कम्पनियों में इसका मुख्य रूप से उपयोग किया जाता है। Auto Parts के Dia , thickness आदि नापने के मुख्य रूप से Vernier Caliper का ही इस्तेमाल किया जाता है। 

Vernier Caliper अनेक रूप और आकार में बाजार में उपलब्ध है। आजकल सही और सटीक साइज को मापने के लिए Digital Vernier Caliper का उपयोग किया जाता है। Vernier Caliper मुख्य रूप से दो प्रकार के होते हैं। पहला है Manual और दूसरा है Digital  Manual Vernier Caliper की तुलना में Digital Vernier Caliper को पढ़ना आसान होता है। Vernier Caliper का एक पैमाना स्थिर होता है और दूसरा प्वांइट चल होता है।

Vernier Caliper के सभी प्रकार नीचे बताए गए हैं।

(1) inside Caliper
(2) Outside Caliper
(3) Divider Caliper
(4) Oddleg Caliper
(5) Vernier Caliper
(6) Dial Caliper
(7) Digital Caliper
(8) Micrometre Caliper

Vernier Caliper के मुख्य भाग

What-is-Vernier-Caliper

(1) भीतरी जबड़े :- किसी वस्तु का अन्दर का व्यास या डाया नापने के लिए।

(2) बाहरी जबड़े :- किसी वस्तु का बाहर का व्यास या मोटाई नापने के लिए।

(3) गहराई माप :- किसी वस्तु या Dia या Bor का गहराई  (Depth) नापने के लिए।

(4) मुख्य पैमाना :- इस पर  मिमि (mm)  के निशान बने होते हैं।

(5) मुख्य पैमाना :- इस पर इंच और उसके छोटे भाग के निशान बने होते हैं।

(6) वर्नियर पैमाना :- यह मुख्य पैमाने से 1/10mm का साईज बताता है।

(7) वर्नियर पैमाना :- यह ऊपर बताए गए को इंच में पढ़ता है।

(8) Retainer :- इसे कस देने पर Vernier Caliper के जबड़े लाॅक हो जातें हैं। मापने के बाद भी हिलने जुलने पर भी माप नहीं बदलता है।

Vernier Caliper क्या है और यह कैसे काम करता है यह सब इस PDF File में विस्तार से बताया गया है। PDF File को Download करने के लिए नीचे दिए लिंक पर क्लिक करें 👇

         Vernier Caliper PDF File

यह भी पढ़ें :- 
CNC Machine क्या होती है और यह कितने प्रकार की होती है।

Quality assurance Quality control में क्या अन्तर होता है।

Post a Comment

1. कमेंट बॉक्स में किसी भी प्रकार की लिंक ना पेस्ट करें।
2. कमेंट में गलत शब्दों का प्रयोग ना करें।

Previous Post Next Post