Satpal ji Maharaj Biography
Satpal Ji Maharaj


Satpal Ji Maharaj Biography

सतपाल जी महाराज जीवन परिचय


Satpal Maharaj का असली नाम  Satpal Singh Rawat था। परंतु अब सतपाल सिंह रावत अब सतपाल महाराज के नाम से जाने जाते हैं। सतपाल महाराज मैजूदा उत्तराखंड सरकार में कैबिनेट मंत्री हैं। सतपाल महाराज इस पर्यटन मंत्री हैं। सतपाल महाराज का जन्म 21 सितंबर 1951 को कनखल में हुआ था जो उत्तराखंड के हरिद्वार शहर में स्थित है। महाराज जी के पिता का नाम योगीराज परमसंत श्री हंस जी महाराज है और माता का नाम जगत जननी राजेश्वरी देवी है। महाराज जी भारतीय जनता पार्टी के मेम्बर भी भी है।

महाराज जी member of parliament और Agriculture Minister रह चुके हैं। Satpal ji Maharaj का विवाह अमृता रावत से हुआ है। जो अब उत्तराखंड सरकार में Agriculture Minister है और MLA रह चुकी है। सतपाल महाराज के दो पुत्र हैं सुयश महाराज और श्रद्धेय महाराज। महाराज जी की उम्र 2019 के अनुसार 67 साल है। महाराज जी की लम्बाई 5 फुट 8 इंच है। महाराज जी का वजन 78 किलोग्राम है।


सतपाल महाराज 3 भाई है। और एक बहन है। बहन का नाम सावित्री हैं और भाईयों के नाम माही पाल , धर्म पाल और प्रेम रावत है। सतपाल महाराज एक मंत्री होने के साथ साथ एक धार्मिक गुरु भी है। इनके भक्तों की संख्या लाखों में है। सतपाल महाराज एक वक्ता भी है। दुनिया भर में इनके सत्संग के कार्यक्रम का आयोजन किया जाता है। सतपाल जी महाराज के दुनिया भर में आश्रम है। सतपाल जी महाराज के साल में बड़े सत्संग कार्यक्रम हरिद्वार में होते हैं पहला 12,13,14 अप्रैल को वैशाली के उपलक्ष्य में आयोजित किया जाता है और दूसरा 21 सितम्बर को महाराज जी के जन्म दिवस के उपलक्ष्य में आयोजित किया जाता है।

इनके अलावा दुनिया भर में महाराज जी के सत्संग कार्यक्रम होते रहते हैं। महाराज जी एक संस्था है जिसका मानव उत्थान सेवा समिति। महाराज जी इस के संस्थापक हैं। महाराज जी को मानने वाले उनके भक्त दुनिया भर में फैले हुए हैं। महाराज जी का प्रभाव नेपाल देश में भी है। काफी संख्या में Satpal ji Maharaj के भक्त नेपाली है।

सतपाल महाराज धर्म से हिन्दू है। इन्होंने अपनी पढ़ाई St. George's College, Barlow Ganj, Mussoorie से की है। अगर शौक की बात करें तो महाराज जी को Reading, Writing, Travelling पसंद है। रंग गेहुंआ है। मनपसंद Politician Atal Bihari Vajpayee जी है। मनपसंद पहनावा कुर्ता पायजामा बास्केट के साथ। पहाड़ी टोपी लगाना भी पसंद करते हैं। कई कार्यक्रम में महाराज जी को पहाड़ी टोपी पहने हुए देखा गया है।

सतपाल महाराज के बारे में कुछ रोचक जानकारी

सतपाल महाराज, ने उत्तराखंड के गठन में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी।  एक सांसद और केंद्रीय मंत्री के रूप में उन्होंने उत्तराखंड के अलग राज्य के निर्माण के लिए तत्कालीन प्रधान मंत्री एच। डी। देवेगौड़ा और पश्चिम बंगाल के मुख्यमंत्री ज्योति बसु के दरवाजे खटखटाए थे।

वे चौबट्टाखाल निर्वाचन क्षेत्र से उत्तराखंड विधानसभा चुनाव में विधायक चुने गए।  उन्होंने राजपाल सिंह बिष्ट को 7354 वोटों से हराया।

उन्हें 5 मई 2010 को लोक लेखा समिति में सदस्य, 19 अक्टूबर 2010 को सदस्य, सामान्य प्रयोजन समिति के रूप में नियुक्त किया गया था। साथ ही वह रक्षा विभाग के 20 सदस्यीय संसदीय स्थायी समिति के प्रमुख थे।

उन्हें गढ़वाल निर्वाचन क्षेत्र से 15 वीं लोकसभा (दूसरा कार्यकाल) के लिए फिर से चुना गया।  उन्होंने कांग्रेस पार्टी के लेफ्टिनेंट जनरल (सेवानिवृत्त) तेजपाल सिंह रावत पी.वी.एस.एम., वी.एस. एम। को हराया।  बाद में वे रेल मंत्रालय के लिए परामर्शदात्री समिति के सदस्य बने।

वे मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ के एआईसीसी समन्वयक बने।उन्होंने पौड़ी गढ़वाल से उपचुनावों में चुनाव लड़ा।

उन्होंने लॉस्ट पौड़ी गढ़वाल से लोकाभा चुनाव जीता।

सतपाल जी महाराज का पता और सम्पर्क नम्बर

महाराज जी का ई-मेल एड्रेस है Email Id connect@satpalmaharaj.in  , 

Number Telephone.: 011-23326623 

Mobile No.: 09013180355 

Fax No.: 011-23326624 , 

Contact Address -
Permanent address
H. No. 45, Vill Sediagad, P.O. Sediakhal, Teh. Chaubattakhal,Distt Pauri Garhwal 246169

Present address