हमारा देश 15 अगस्त 1947 को आजाद हुआ था और हमारे देश के स्वतंत्रता सेनानियों ने इसमें अपना बहुमूल्य योगदान दिया था। देश को आजाद कराने में कई क्रांतिकारियों ने अपने जीवन बलिदान कर दिया था। परन्तु उनका ये बलिदान व्यर्थ नहीं गया। उनकी इस कुर्बानी ने लोगों में साहस भर दिया। उनके द्वारा लगाए गए इन नारों ने आम लोगों में साहस भर दिया। और उनके साथी क्रांतिकारियों ने खुल कर अंग्रेजों का विरोध किया और देश को आजाद कराया।

Independent Day Shayari

ऐ बन्दे !
ना हिन्दू बन, ना मुस्लिम,
न भ्रष्टाचार का गुलाम,
बस एक इंसान बन
कुछ ऐसे कर्म कर,
कि खुद से कोई शर्म ना हो!!

Independence day Shayari

किसी को लगता हैं हिन्दू ख़तरे में हैं,
किसी को लगता मुसलमान ख़तरे में हैं,
धर्म का चश्मा उतार कर देखो यारों,
पता चलेगा हमारा हिंदुस्तान ख़तरे में हैं।

गणतंत्र दिवस की शायरी

कहते हैं अलविदा हम अब इस जहान को,
जा कर ख़ुदा के घर से अब आया न जाएगा,
हमने लगाई आग हैं जो इंकलाब की,
इस आग को किसी से बुझाया ना जाएगा।

खूब बहती हैं अमन की गंगा बहने दो,
मत फैलाओ देश में दंगा रहने दो,
लाल हरे रंग में ना बाटो हमको,
मेरे छत पर एक तिरंगा रहने दो।

Independence day Shayari in Hindi

ना पूछो जमाने से कि
क्या हमारी कहानी है,
हमारी पहचान तो बस
इतनी है कि हम सब
हिन्दुस्तानी हैं!!

मेरे देश का मान हमेशा बनाये रखूँगा
दिल तो क्या जान भी इस पर न्योछावर करूँगा
अगर मिले मौका देश के काम आने का
तो बिना कफ़न के ही देश के लिए सो जाऊंगा!!

ना सरकार मेरी है, ना रौब मेरा है
ना बड़ा-सा नाम मेरा है, मुझे तो एक छोटी-सी बात का गौरव है।
मै “हिन्दुस्तान” का हूं और “हिन्दुस्तान” मेरा है!!

Independence day Shayari

वतन हमारा ऐसा कोई ना छोड पाये
रिश्ता हमारा ऐसा कोई न तोड़ पाये
दिल एक है जान एक है हमारी
हिन्दुस्तान हमारा है यह शान हैं हमारी!!

हम हाथ मिलाना भी जानते है
और हाथ उखाड़ना भी
हम गांधी जी को भी पूजते है
और चंद्रशेखर आज़ाद को भी!!

भारत की पहचान हो तुम,
जम्मू की जान हो तुम,
सरहद का अरमान हो तुम,
दिल्ली का दिल हो तुम,
और भारत का नाम हो तुम।

मुकुट हिमालय
हृदय में तिरंगा
आँचल में गंगा लायी है
सब पुण्य, कला और
रत्न लुटाने देखो
भारत माता आयी है…..
भारत माता की जय…

भारतीय सैनिक कहते हैं –
इतनी सी बात हवाओं को बताये रखना,
रौशनी होगी, चिरागों को जलाये रखना।
लहू देकर जिसकी हिफ़ाज़द की हमने,
उस तिरंगे को आँखों में बसाये रखना।

तूझे सलाम
तू मस्तक पर विराजे
यही हैं मेरी शान
तिरंगा मिले कफन में मुझे
यही उपहार होगा तेरा
हर जीवन तेरे आँचल में खिले
यही अरमान होगा मेरा।

भारत के गणतंत्र का सारे जग में है मान,
दशकों से खिल रही भारत की अदभुत शान,
सब धर्मो को देकर मान रच गया इतिहास,
इसलिए हर देशवासियों को इसमें है विशवास,
गणतन्त्रता दिवस की हार्दिक शुभकामनाएँ ||

देशभक्तों के बलिदान से
स्वतन्त्र हुए हैं हम
कोई पूछे कौन हो तो
गर्व से कहेंगे भारतीय हैं हम।

क्या हिन्दू क्या मुस्लिम
क्या सिक्ख क्या ईसाई
मेरी माँ ने कहा था
हम सब हैं भाई-भाई

ज़माने भर में मिलते हैं आशिक कई
लेकिन वतन से खूबसूरत कोई सनम नहीं होता
नोटों में लिपटकर, सोने में सिमट कर मरे हैं कई
मगर तिरंगे से खूबसूरत कोई कफ़न नहीं होता

पैसे की चाह में देश छूट गया
ऐ वतन मैं तुझसे दूर हो गया
न जानता था मैं
इस मिट्टी की खुशबू
न समझता था मैं
अपनों की आरजू
आज जब तिरंगा देखा मैंने
मेरे वतन की याद आने लगी
आज जब राष्ट्रगान सुना मैंने
मुझे वतन की खुशबू सताने लगी

कतरा कतरा दे दूंगा अपने वतन के लिए
रात और दिन बॉर्डर पर पहरा दूंगा अपने वतन के लिए
ये कुर्बानी है मेरी मेरे देश के लिए
जरुरत आने पर अपनी जान भी दूंगा अपने वतन के लिए

अमेरिका देखा, लंदन देखा,
पेरिस देखा और देखा जापान,
सरे जग में कहीं न मिल्या दूजा हिन्दुस्तान..
We all feel proud to be an Indian.
Happy Republic Day

सरफ़रोशी की तमन्ना
अब हमारे दिल में है
देखना है जोर कितना बाजु ए कातिल में है

जिस देश में पैदा हुए हो तुम…
उस देश के अगर तुम भकत नहीं…
नहीं पिया दूध माँ का तुमने और बाप का तुम में रक्त नहीं… वन्देमातरम !!
गणतंत्र दिवस मुबारक हो!

यह भी पढ़ें :- भारत क्यों महान है। Why is India Great जरूर पढ़ें।

Independence day Shayari Slogan


वो शमा जो काम आये अंजुमन के लिए,
वो जज़्बा जो क़ुर्बान हो जाये देश के लिए,
रखते हैं हम भी वो हौंसला,
जो मर मिटे हिंदुस्तान के लिए

आजाद की कभी शाम नहीं होने देंगें,
शहीदों की कुर्बानी बदनाम नहीं होने देंगें,
बची हो जो एक बूंद भी गरम लहू की,
तब तक भारत माता का आँचल नीलाम नहीं होने देंगें!
गणतंत्र दिवस मुबारक हो!

मैं इसका हनुमान हूँ
ये देश मेरा राम है
छाती चीर के देश लो
अंदर बैठा हिंदुस्तान है।

Independence-day-slogan-in-Hindi

Independence Day Slogans

स्वतंत्रता दिवस के नारे



दोस्तों स्वतंत्रता दिवस यानि 15 अगस्त , ये एक महान दिन है। जिस दिन हमारा भारत देश अंग्रेजो के चंगुल से आजाद हो गया था। और हमे मिली थी सुनहरी आजादी , ऐसी आजादी जिसमे हम खुली हवा में साँस ले सकतें थे। हर तरफ भाईचारा था। दोस्तों 15 अगस्त के उपलक्ष में मैं कुछ अनमोल विचार जो कि हमारे महा पुरुषों के थे आपसे शेयर करना चाहतीं हूँ।

चलिए आज इन Slogans को हम एक बार फिर दोहराते हैं।
आप भी अपने दोस्तों और रिश्तेदारों के साथ इन Slogans को शेयर करें।

Independence day thought


1. आज है 15 अगस्त, 15 अगस्त अमर रहे।

2. विजयी विश्व तिरंगा प्यारा, झंडा ऊँचा रहे हमारा।

3. सारे जहाँ से अच्छा हिन्दोस्तां हमारा।

4. पूरी दुनिया को हमें दिखाना है, आज का दिन सिर्फ हमारा है।

5. तिरंगा हमारी शान है, हम भारतियों का मान है।

6. आज हुआ था नया सवेरा, दूर हुआ था अन्धकार का डेरा।

7. 15 अगस्त पर अभिमान करो, स्वतंत्रता सेनानियों का सम्मान करो।

8. जब करेंगे देश की भक्ति, तभी बनेगा भारत विश्व शक्ति।

9. चलो यह हुंकार भरे, देश के विकास में योगदान करे।

गणतंत्र दिवस के नारे

10. हमेशा बजेगी राष्ट्र की धुन, बेहतर भविष्य के सपने बुन।

11. अपने देश पर हमें गर्व है, आज राष्ट्रिय पर्व है।

12. हे भारत माता, बहुत गजब है तेरी गाथा।

13. पूरी दुनिया में फैलाओ ये बात, हम भारतीय है साथ साथ।

14. वन्दे मातरम, वन्दे मातरम।

15. देखो आज हम जीत गये, दुश्मन भाग के चले गये।

16. वीर शहीदों के बलिदान को, नहीं भूलेंगे नहीं भूलेंगे।

17. देश को आगे बढ़ाना है, आज स्वतंत्रता दिवस मनाना है।

18. स्वराज हमारा जन्म सिद्ध अधिकार है।

19. इन्कलाब जिंदाबाद।

20. अरे दुश्मन न ले तू पंगा, अब देश न है अपंग।

गणतंत्र दिवस के नारे

21. आजादी का यह दिन है, वीर शहीदों को नमन है।

22. दुश्मन की गोलियों का सामना हम करेंगे। आज़ाद थे हम आजाद रहेंगे।

23. आराम हराम है।

24. दिल्ली चलो।


25. अंग्रेजों भारत छोड़ो।

26. करो या मरो

27. सत्यमेव जयते।

28. सरफ़रोशी की तमन्ना अब हमारे दिल में है।

29. स्वराज्य मेरा जन्मसिद्ध अधिकार है और मैं इसे लेकर रहूंगा।

30. तुम मुझे खून दो मैं तुम्हें आजादी दूंगा।

31. दे सलामी इस तिरंगे को जिस से तेरी शान हैं

गणतंत्र दिवस की शायरी

32. एक सैनिक ने क्या खूब लिखा है।
किसी गजरे की खुशबु को महकता छोड़ आया हूं।
मेरी नन्ही सी चिड़िया को चहकता छोड़ आया हूं।।
मुझे अपनी छाती से लगा लेना... ऐ भारत मां, मैं अपनी मां की बांहों को तरसता छोड़ आया हूं।।

33. ज़माने भर में मिलते हैं आशिक कई, मगर वतन से खूबसूरत कोई सनम नहीं होता।
नोटों में भी लिपट कर सोने में सिमटकर मरे हैं कई मगर तिरंगे से खूबसूरत कोई कफ़न नहीं होता।।

किसी को लगता हैं हिन्दू ख़तरे में हैं,

किसी को लगता मुसलमान ख़तरे में हैं,

धर्म का चश्मा उतार कर देखो यारों,

पता चलेगा हमारा हिंदुस्तान ख़तरे में हैं।।


आपको Independence Day पर लिखे गये हिंदी स्लोगन कैसे लगे. हमें अपनी प्रतिक्रिया कमेंट के माध्यम से जरुर दे।

यह पोस्ट भी पढ़ें :-

Post a Comment

1. कमेंट बॉक्स में किसी भी प्रकार की लिंक ना पेस्ट करें।
2. कमेंट में गलत शब्दों का प्रयोग ना करें।

Previous Post Next Post