-->

The perfect remedy for negating negative and stress




नकारात्मक और तनाव को दूर भगाने का मंत्र

आजकल की भागदौड़ भरी जिंदगी मैं हर व्यक्ति तनाव का शिकार हो रहा है। उसके साथ ही घबराहट चिंताएं एवं दिल की धड़कन का बढ़ जाना यह प्रॉब्लम का होना आम बात हो चुका है। इसलिए आज हम आपके लिए ऐसे ही कुछ लक्षणों को लेकर आए हैं जिससे आप अपने तनाव को कम करने के साथ साथ अपने तनाव को खत्म भी कर सकते है ‌।

तनाव मुक्त रहने का अचूक फॉर्मूला

1. अपने आप पर ध्यान दें :- 

आपको खुद पर ध्यान देने की आवश्यकता है , कि आप कैसे कपड़े पहने हुए हैं , और आप क्या बोल रहे हैं आप क्या खा रहे हैं कहने का मतलब है अपने पूरे शरीर का ध्यान रखना है।  और खुद के बनाए हुए नियमों के अनुसार ही अपनी दिनचर्या का पालन करना है।

2. मेडिटेशन ज़रुरी है :- 

मेडिटेशन बहुत जरूरी है शरीर को तनाव से मुक्त करने के लिए। आप कोशिश करें कि डेली 10:00 मिनट का मेडिटेशन करें। इससे आपको तनाव से राहत महसूस होगी और आप अंदर से सकरात्मक उर्जा प्राप्त करेंगे।

3. गहरी सांस लें :- 

गहरी सांस आपके शरीर में ऑक्सीजन के प्रभाव को सुचारु रुप से चलाती हैं। इसलिए जब भी आप तनाव में आए तो एक गहरी सांस जरूर लें यह शरीर में ऑक्सीजन की खपत को कंट्रोल करेगा। यह आप के फेफड़ों के लिए भी अच्छा है। इससे फेफड़े मजबूत होते है और दिल का दौरा पड़ने की संभावनाएं काफी कम हो जाती है।

4. खुश रहने की कोशिश करें :-

हमेशा खुश रहने की कोशिश करें। आप चाहें तो अपने दोस्तों के साथ वक्त बिता सकते है। उनके साथ सिनेमा देखने जा सकते है। दोस्तो के साथ कहीं पार्क या बाहर घूमने जा सकते है। उनके साथ सैर करने जा सकते है। इससे आप को अच्छा महसूस होगा और आप तनाव से बाहर निकल पायेगे। 

5. धीमा संगीत सुनें :- 

तनाव के समय में आपकी धीमी और मधुर संगीत सुनने की आदत आपको बहुत फायदा पहुंचा सकती है। इससे काफी हद तक आपको तनाव को खत्म करने में मदद मिलेगी और आप फ्रेश महसूस करेंगे।

6. अपने स्मार्टफोन पर अच्छा सा वालपेपर लगाए :-

आप अपने मोबाइल पर एक बढ़िया सा मोटिवेशन वॉलपेपर लगाएं या फिर आप चाहें तो अपने इष्ट देव की तस्वीर भी लगा सकते हैं। इससे आपको अच्छा महसूस होगा।

7. परिवार को वक्त दे :- 

यदि आप अपने परिवार वालों के साथ रहते हैं या उनसे दूर रह रहे हैं तो परिवार वालों को भी समय देना जरुरी है। यदि आप दूर हैं तो उनसे फोन पर बात जरूर करें और साथ में कभी-कभी बाहर घूमने भी जरूर जाएं । आपको अपने परिवार को समय देना बहुत जरूरी है।

8. व्यायाम और योग करें :- 

हमारे शास्त्रों में बताया गया है कि योग की शक्ति से आप सब कुछ हासिल कर सकते हैं। योग को अपनी दिनचर्या में शामिल करना चाहिए आपको। आप प्रतिदिन 30 मिनट व्यायाम और योग के लिए जरूर निकालें।

9. डांस करें :- 

खुशियों का मौका मिले तो डांस जरूर करें। इससे आपको अंदर से खुशी मिलेगी और डांस एक बहुत ही अच्छा व्यायाम भी है। भले ही आपको अच्छा से डांस करना ना आता हो फिर भी आप डांस करने की कोशिश जरूर करें आप एक बार ट्राई तो कर ही सकते हैं।

10. नाकारात्मक प्रवृत्ति के लोगों से दूर रहें :-

जो लोग नकारात्मक होते हैं उन से दूरी बनाए रखें। उन से दूरी बनाकर रखना ही आपके लिए समझदारी है। क्योंकि यह लोग आपके अंदर भी नकारात्मक चीजें को डाल सकते हैं जिसका आप के ऊपर नेगेटिव इफ़ेक्ट पड़ेगा।



11. दूसरों के मामलों में दखल ना दे :- 

आपको हमेशा खुद के काम से मतलब होना चाहिए। दूसरों के काम में टांग अड़ाने की कोशिश ना करें। क्योंकि यह करना ठीक नहीं है। आप सिर्फ अपने से ही सीमित रहें दूसरों के लड़ाई-झगड़ों में फालतू उलझने की जरूरत नहीं है। अगर आप ऐसा करते हैं तो इससे आपको ही परेशानी होगी जिसे आप तनावग्रस्त भी हो सकते हैं।

12. लोगों से बहस बाजी ना करें :-

कई बार ऐसा होता है कि लोग बेकार की राजनीतिक मामलों में आपस में ही बहस करने लग जाते हैं। और कभी-कभी तो क्रिकेट मैच को लेकर हम आपस में दोस्तों के साथ बहस बाजी करने लगते हैं। इसलिए आप भी ऐसी बहस बाजी से बचें क्योंकि क्रिकेट मैच में कभी कोई टीम जीता है तो कभी हारता है। तो राजनीति में भी नेता आते-जाते रहते हैं। बेवजह इन मामलों में दोस्तों के साथ बहस बाजी ना करें आप इस तरह की बहस बाजी का हिस्सा बनने से बचें।

13. शक्कर , तेल और नमक का सेवन कम करें :- 

स्वातिक भोजन करने की आदत बनाएं। तेल नमक और शक्कर का प्रयोग कम करें। मसाले वाली चीजों का सेवन सीमित मात्रा में ही करें। तली-भुनी चीजों का भी सेवन सीमित मात्रा में ही करना चाहिए। विटामिन और प्रोटीन युक्त भोजन का सेवन अधिक मात्रा में करना चाहिए। विटामिन बी12 से संबंधित चीजों का सेवन आपके स्वास्थ्य के लिए लाभदायक हो सकता है।


ऊपर बताई गई जानकारियों में से अगर आप 5-6  जानकारियों को अपने जीवन में अगर शामिल कर लेते हैं। तो आप बहुत हद तक नकारात्मक चीजों से बच सकते हैं और आपके जीवन में खुशहाली आनी शुरू हो जाएगी और आप तनावमुक्त भी रहेंगे और इससे आपका स्वास्थ्य भी अच्छा रहेगा।