बिना कोचिंग के Competitive Exams की तैयारी कैसे करें।


Competitive-Exams-ki-taiyaari-ghar-per-kaise-kre

बिना कोचिंग सेंटर गये Competitive Exams की तैयारी कैसे करें।



आज दिन प्रतिदिन कंपटीशन बढ़ता जा रहा है। हर महीने अलग अलग फील्ड से सम्बंधित हाजारो लोग ये एग्जाम देते हैं। लोग कंपटीशन एग्जाम फॉर्म आते ही कोचिंग सर्च करने लगते हैं। बहुत से लोग सोचते हैं बिना कोचिंग के एग्जाम क्लियर नहीं हो सकता है। लेकिन ऐसा नहीं है। आप बिना कोचिंग के प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी कर सकते हैं। और एग्जाम क्लियर कर सकते हैं। बस उसके लिए कड़ी मेहनत लगन और आत्मविश्वास की जरूरत है। जब हम किसी कंपीटिटिव एग्जाम की प्रिपरेशन करना स्टार्ट करते हैं तो सबसे बड़ी प्रॉब्लम होती है कि कहां से स्टार्टिंग की जाए क्या पढ़े क्या नहीं कौन सी बुक पढे कौन से राइटर की बुक पढ़नी चाहिए , क्या पढ़े क्या ना पढ़े , कठिन चीजें समझ में आएगी कि नहीं आएगी ऐसे तमाम तरह के प्रश्न हर एक के दिलों दिमाग में आने लगते हैं यहां मैं कुछ देर से बता रहा हूं जिससे आप बिना कोचिंग के प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी घर बैठे कर सकते हैं। और एग्जाम को किल्यर भी कर सकते है।

1 अत्मविश्वास :-     Exam की Preparation करने मे पहला Step अत्मविश्वास है। आपको अपने अंदर माइंड मैं यह बात आत्मविश्वास के साथ बोलना है कि मैं इस एग्जाम को क्लियर कर सकता हूं। मैं मेहनत से पढ़ाई करूंगा और एग्जाम क्लियर कर लूंगा अगर आपने प्रिपरेशन बहुत अच्छे से किया लेकिन एग्जाम आत्मविश्वास के साथ नहीं दोगेेेे तो एग्जाम में क्वेश्चन का आंसर आते हुए भी आप Answer को गलत करके आ सकते हैं। इसलिए आप के अन्दर Self-confidence होना बहुत जरूरी है।


2. पढा़ई की प्लानिंग :-  दूसरा स्टेप हैं। प्लानिंग बिना प्लानिंग के सफलता संभव नहीं है प्लानिंग करने से हम एक रास्ता बनाते हैं कि हमें कैसे चलना है क्या करना है कि हमें कैसे पढ़ाई करनी है क्या क्या पढ़ना है जिसके लिए एग्जाम की प्रिपरेशन स्टार्ट करने से पहले आपको अपने एग्जाम के बारे में सभी इंफॉर्मेशन पता होनी चाहिए जैसे एग्जाम सिलेबस एग्जाम डेट नोटिफिकेशन बगैरा।

3. समय सारणी :- Exam के सिलेबस को ध्यान में रखते हुए अपना टाईम टेबल बनाए। ताकि सारा सेेेलेबस समय पर खत्म हो सके। हर सब्जेक्ट को अच्छे से पढ़े और कमजोर सब्जेक्ट को ज्यादााा टाइम दे। जिस सब्जेक्ट मे आप कमजोर हो। उस पर ज्यादा ध्यान दे। इसमें आप अपने दोस्तो की मदद भी ले सकते है।

4. स्टडी मटेरियल :- Exam केे Subjects के According study Material इकट्ठा करे। एग्जाम के आते ही एग्जाम की तैयारी करने से संबंधित बहुत सारी बुक्स मार्केट में उपलब्ध् हो जाती है। आप अपने एग्जाम की तैयारी करने मे इसका इस्तेमाल कर सकते है। यह अलग-अलग सब्जेक्ट के लिए बुक ले सकते हैं जिससे आप बहुत अच्छे कंपीटीटिव एग्जाम की तैयारी एक ही बुक से कर सकते हैं।

5. नोटस बनाए :- जब आप कोई टॉपिक पढ़ते हैं तो पढ़ाई के साथ-साथ उसमें महत्वपूर्ण टॉपिक एंड पॉइंट्स की नोटस बनाते जाएं। एक प्रैक्टिस शॉर्ट नोटस की तरह होती है। या कम समय में और महत्वपूर्ण पॉइंट को आसानी से कभी भी पढ़ाई का रिवीजन करा सकेंगे। नोट्स तैयार करते समय पॉइंट वाइज और चाट का भी यूज़ कर सकते हैं। जिससे समझने में आसानी होगी। नोट्स बनाने के बाद उन Topics को एक बार ध्यानपूर्वक पढ़ें। जिससे आपको समझ आ जाएगा कि कोई इंपॉर्टेंट टॉपिक या Points छूट तो नहीं गए और आपने जो लिखा है वह अच्छे सेेे समझ आ जाएगा।


6:- पुराने प्रश्न हल करे :-  अगर आप किसी भी परीक्षा में पूछे गए पिछले 5- 10 सालों के प्रश्नों का गहन अध्ययन करते हैं, तो आपको पेपर पैटर्न का नॉलेज हो जाएगा और आपका कॉन्फिडेंस लेवल बढ़ जाएगा। और आप अपनी कमियों को भी अच्छी तरह से जान जाएंगे और दूर कर सकेंगे। जब आप पुराने प्रश्न पत्र सॉल्व करें और एग्जाम टाइम लिमिट में पूरा करें। सॉल्व करने के बाद आपने गलत उत्तर पर सही उत्तर का मूल्यांकन कर नंबर दे। जिससे आपको पता चल सके कि आप कहां कमजोर हैं और किस टॉपिक पर मेहनत करनी है।

7. सेहत का ख्याल रखें :- Exam Preparation करते हुए , आप को  अपने हेल्थ का भी ख्याल रखना चाहिए। क्योंकि आपका शरीर और दिमाग जब तक सही नहीं होगा तब तक आप पढ़ाई नहीं कर सकते। इसके लिए व्यायाम करें। शरीर या दिमाग को फिट रखने के लिए व्यायाम बहुत जरूरी है। इसे दिमाग फ्रेश और तनाव मुक्त होगा और आपको पढ़ाई करने में आसानी होगी। आप अपने मन को पढ़ाई में आसानी से लगा सकेंगे। आपको खेलों मे भी भाग लेेेना चाहिए। जिससे हमारा शरीर फ्रेश और शक्तिशाली महसूस करेगा। कहा जाता है कि स्वस्थ इंसान में ही स्वस्थ दिमाग वास करता है।

8. खुद के Knowledge को चैक करें :- Self Confidence और Knowledge चेक करने के लिए कोचिंग में वीकली एग्जाम कराए जाते हैं। जिसमें स्टूडेंट का एग्जाम से डर खत्म हो जाता है। और एग्जाम में जल्दी से सवालों को सॉल्व करना भी सीख जाते हैं। आप भी घर में ऐसा कर सकते हैं। और पता कर सकते हैं कौन सा सब्जेक्ट वीक है किस सब्जेक्ट में ज्यादा मेहनत करनी है। कमियों को पहचान कर दूर कर सकते हैं साथ ही कॉन्फिडेंस लेवल भी बढ़ाने के लिए प्रैक्टिस करना चाहिए।

9. जो भी पढे़ मन लगा कर पढे़ :- कई बार Students ये गलती कर जाते हैं कि वे जब वो पढा़ई करने है तब वह अपने इलेक्ट्रॉनिक गैजेट से दूरी नहीं बना पाते हैं जिससे मैं अपना सारा ध्यान पढ़ाई में नहीं लगा पाते हैं। आप जब भी पढ़ने बैठे अपने गैजेट्स को पढ़ने वाले कमरे के बाहर रखेे। लगातार एक ही सब्जेक्ट को पढ़ने से बचे। सब्जेेक्ट को बदल बदल कर पढे़। जिससें आप बोरिंग महसूस नहीं करेंगे। अक्सर Students को लगता है कि जो ज्यादा समय तक पढा़ई करता है वो ही इंसान तेज होता है पढा़ई मे। लेेेकिन ये बात बिल्कुल भी सही नहीं है। अगर Students 1hours भी पूूरी ईमानदारी और एकाग्रता के साथ पढा़ई करता है तो उस

Students मे ज्यादा Capacity होती है और वो ज्यादा से ज्यादा चीजो को याद कर सकता है।  लेकिन एक बात ध्यान में रखना जरूरी है कि स्टूडेंट को अक्सर 10 से 15 मिनट का ब्रेक प्रति घंटे में जरूर लेना चाहिए जिससे वह उस 10 मिनट में अपने दिमाग को विश्राम दे सके।

Conclusion :- आप ऊपर बताये गये टिप्स को फोलो करके आप Competitive Exams की तैयारी बिना कोचिंग सेंटर गये। घर बैठे बहुत आसानी से कर सकते हैं।

इन्हें भी पढे़ :- 

Ek Accha Laptop Kaise Karide Hindi Me Pade

Exams Ki Taiyaari Kaise Kre

Railway Gruop D Recruitment and Vaccency Letest Update 2018

Ram Gupta
Ram Gupta

This is a short biography of the post author. Maecenas nec odio et ante tincidunt tempus donec vitae sapien ut libero venenatis faucibus nullam quis ante maecenas nec odio et ante tincidunt tempus donec.

No comments:

Post a Comment