Home Loan Lene Se Pehle Jaan Le Ye Niyam


Home-Loan-Lene-Se-pehle-jaan-ye-Niyam

Home Loan Lene Se Pehle Jaan Le In Baato Ko Hoga Faiyda

होम लोन लेने से पहले जान ले इन बातों को होगा बढा फायदा


आज हर कोई खुद का घर लेना चाहता है पर महंगाई के इस दौर में घर लेना या खुद का आशियाना लेना आसान नहीं है ऐसे में आपके घर लेने के सपने को पूरा करता है होम लोन होम लोन या पर्सनल लोन आप की देनदारी को बढ़ाते हैं जबकि होम लोन लेने से आप एक संपत्ति के मालिक बन जाते हैं हां आपको कुछ समय तक जरूर इस की ईएमआई भरनी पड़ती है पर आपको किराया देने से भी तो मुक्ति मिल जाती है। अगर आप के पास भी अभी तक अपना घर नहीं है और आप अपना खुद का नया घर Loan ले कर लेने के बारे मे सोच रहे है। तो आप होम लोन लेते वक्त कुछ बातों का ध्यान रखा जाए तो यकीन मानिए आप के फायदे का सौदा यह साबित होगा। आइए जाने होम लोन से जुड़ी कुछ खास बातों के बारे में।

महीने के अंत मे आवेदन करे

अगर आप महीने की 24 तारीख के बाद लोन के लिए आवेदन कर रहे है तो आप को डिस्काउंट मिलने की संभावना ज्यादा रहती हैं। बैकों की कोशिश होती हैं कि वे अपने हर महीने का लोन टारगेट पूरा करें। ऐसे में यह संभावना ज्यादा रहती हैं कि इस अवधि मे बैक आप को किफायती दर पर आप को Home Loan उपलब्ध कराएं।

Read More :-

Voter ID Card Online Kaise Banwaye

Interesting Facts About Bollywood

अच्छी क्रैडिट रेटिंग जरूरी है 

बैंक अपने पुराने और विशवासनिय ग्राहकों को किफायती दर पर होम लोन उपलब्ध कराने की कोशिश करते हैं। इसलिए जरूरी है कि आप का क्रेडिट स्कोर अच्छा हो। आप अपने क्रैडिट काड बिल और बाकी की देनदारियों का भुगतान समय पर करें इससे आपकी क्रेडिट रेटिंग दुरुस्त रहेगी और सस्ता होम लोन मिल सकता है।

एकसाथ करे आवेदन 

अगर आप और आपके कई मित्र एक साथ होम लोन ले तो यह लोन आपके लिए सस्ता पड़ेगा। कहने का मतलब है कि जब मिलकर Home Loan लिया जाता है। तो बैंक का वित्तीय संस्थान को इसकी प्रोसेसिंग फीस और कानूनी कार्रवाई पर कम खर्च करना पड़ता है। जिसका फायदा निश्चित तौर पर बैंक ग्राहकों को देता है। जिसके चलते बैंक आपकी प्रोसेसिंग फीस और अन्य शुल्क माफ कर सकता है।

पात्रता का प्रावधान

किसी व्यक्ति को कितना लोन मिलेगा यह इस बात पर निर्भर करता है। कि उसकी ग्रॉस सैलरी कितनी है। उदाहरण के तौर पर वेतनभोगी वर्ग को सालाना आय का 4 गुना होम लोन दिया जा सकता है। इसके अलावा चार्टर्ड अकाउंटेंट डॉक्टर जैसे पेशेवरों को उनकी सैलाना का 7 गुना तक लोन दिया जा सकता है। हालांकि लोन देते वक्त बैंक इस बात का भी ख्याल रखते हैं कि व्यक्ति की टेक होम सैलरी या फिर नेट सैलरी ग्रोस सैलरी के 40 फ़ीसदी से कम ना हो। इसके अलावा होम लोन के लिए आवेदन करने वाले व्यक्ति की क्रेडिट रिपोर्ट पर भी गौर किया जाता है। अगर कर्ज चुकाने का पुराना रिकॉर्ड दागदार है। तो संभव है ऐसे व्यक्ति को लोन मिले ही नहीं या मिले भी तो अपेछाकृत अधिक ब्याज दर पर मिले।

बढ़ा  सकते है Home Loan की पात्रता

आप के Home Loan की पात्रता जितनी लम्बी होगी उतना ज्यादा आप को लोन मिल सकेगा। प्रति लाख रुपये पर मासिक किश्त लम्बी अवधि के लोन के लिए कम होती हैं। ऐसी स्थिति में बैंक उसी आय पर ज्यादा लोन दे देतें है। अपने लोन की पात्रता बढाने का दूसरा रास्ता यह है कि जिन रिश्तेदारों को बैंक अनुमति देते है। आप उनकी और अपनी आय मिला कर ज्वाइंट लोन ले सकते हैं। इसमें आप की पत्नी , बच्चे , भाई , बहन और माता पिता शामिल हो सकते हैं। एक शादीशुदा महिला भी सास ससुर और पति की आय मिला कर ज्वाइंट लोग ले सकती हैं। 

हालांकि वह अपने मां बाप के साथ जॉइंट लोन नहीं ले सकती है। अगर आपके पास डाउन पेमेंट देने के लिए पर्याप्त राशि है। तो आप को बड़ा लोन लेने की जरूरत नहीं है। इससे आप पर कर्ज का बोझ नहीं बढ़ेगा। लोन देते वक्त बैंक आप से किसी पुराने  रिपेमेंट की जानकारी मांग सकता है। इसके लिए आप किसी पुराने लोन की रीपेमेंट का प्रूफ दे सकते हैं। रिपेमेंट के प्रूफ़ के तौर पर आप कार लोन या किसी अन्य लोन के दास्तावेज दिखा सकते हैं। 

वारिष्ठ नागरिकों को भी फायदा

आमतौर पर वरिष्ठ नागरिकों को ज्यादा लंबी अवधि वाला लोन नहीं दिया जाता है उदाहरण के तौर पर अगर कोई व्यक्ति 7 साल का है तो उसे ज्यादा से ज्यादा 5 साल तक की अवधि वाला होम लोन नहीं मिल सकता है या समस्या भी जॉइंट होम लोन लेने से दूर हो जाती है अगर कोई वरिष्ठ नागरिक किसी कम उम्र वाले के साथ मिलकर लोन के लिए आवेदन करता है तो उसे लंबी अवधि वाला लोन भी मिल सकता है

लोन लेने के लिए आवेदन करने से पहले

क्रेडिट इंफॉर्मेशन ब्यूरो ऑफ इंडिया लिमिटेड यानी सिबिल से आप अपनी क्रेडिट रिपोर्ट मंगवाकर या जान सकते हैं। कि आप का रिकॉर्ड और स्कोर क्या है। साल में एक बार ₹450 खर्च कर सिबिल से क्रेडिट स्कोर पाने के बाद आप यहां जान सकते हैं। कि आपका कर्जदाता आपके आवेदन को किस प्रकार देखेगा। अगर क्रेडिट रिपोर्ट में  में कोई गलत सूचना पाई जाती है। जैसे आपने क्रेडिट कार्ड के तमाम बिलों का भुगतान किया हुआ है लेकिन रिपोर्ट में यह दर्शाया गया है कि आपने बिलों का भुगतान नहीं किया है। और इस कारण आपकी क्रेडिट रिपोर्ट प्रभावित हुई है। तो आप भुगतान के सबूत के साथ रिपोर्ट संब्धित बैंक से बातचीत कर सकते हैं। ऐसे सबूत के साथ आप सीधे सिबिल से संपर्क कर अपनी सूचना सही करवा सकते हैं।

लोन लेतें समय इन बातों का रखें ख्याल

1. नए या फिर जिन कर्जदाताओं के बारे में ज्यादा जानकारी ना हो उनसे लोन लेने से बचें
2. लोन लेते समय कम से कम चार पांच अलग-अलग करदाताओं की ब्याज दर लागत आवेदन प्रक्रिया में सरलता और भुगतान की सरलता तथा पुराने कर्जदारों के अनुभव के बारे में जरूरी जानकारी ले लें
3. ब्याज दरों और अन्य शुल्क की तुलना के लिए आप ऑनलाइन पोर्टल का भी सहारा ले सकते हैं
4. कर्जदाताओं के रेट रीसैट ,फौर क्लोज़र की शर्तों का अध्ययन करना बेहद जरूरी है।
5. ऐसे कर्जदाताओं का चुनाव करें जिनके प्री-पेमेंट के नियम और शर्ते आसान हो।
6. आप उस बैंक से ही Home Loan ले जिसकी सेवाएं सरल और सुगम हो।

Final Words :- 

ऊपर बताई गई बातों को अमल में ला कर। आप इसके अनुसार होम लोन के लिए आवेदन करते हैं तो तो यह यकीनन आप के लिए बहुत फायदे का सौदा साबित हो सकता है। आप लोन लेने से पहले 2-3 बैंको मे जा कर जानकारी हासिल कर सकते हैं। क्योंकि हर बैक के अपने अलग अलग Policy और  Rule होते हैं।

ये भी पढे़  :-

Kisi Bhi Business Me Success Hone Ka Mantra

Affiliate Marketing Program Se Paisa Kaise Kamaye

Bitcoin Kya hai Isme Invest Kaise Kre

Jiocoin Kya Hain Puri Jaankari Hindi Me

Kisi Bhi Bank Ka Balance Ek Miss Call se Check kre

Deep Web , Dark Web Aur Surface Web Kya hai . Internet Ki Puri Jaankari

Android Phone Ki Battery Backup Ko Double Kaise

Post a Comment

1 Comments

  1. Really amazing blog, I’d love to discover some extra information.Blogger blog

    ReplyDelete